कश्मीर की तरह अब मुनस्यारी में भी देखें ट्यूलिप गार्डन के नजारे, हॉलैंड से मंगवाए गए हैं 7000 ट्यूलिप बल्ब

by Content Editor

कोरोना महामारी के चलते उत्तराखंड (uttarakhand ) से एक अच्छी खबर आई है। उत्तराखंड राज्य अपनी प्राकृतिक सुंदरता के कारण पर्यटकों की पहली पसंद है। हर साल उत्तराखंड की सुंदरता का अनुभव करने लाखों की संख्या में पर्यटक आते हैं। इस वजह से उत्तराखंड में पर्यटन के ऊपर काफी जोर रहता है। हाल ही में उत्तराखंड सरकार ने पिथौरागढ़ के लोकप्रिय पर्यटन स्थल मुनस्यारी (munsiyari) में कश्मीर की भांति ही बेहद खूबसूरत और आकर्षक ट्यूलिप गार्डन (tulip garden) विकसित किया है, जो इस समय आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। उत्तराखंड का यह पहला ट्यूलिप गार्डन है।

हाल ही में उत्तराखंड़ के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मुनस्यारी में विकसित किए जा रहे ट्यूलिप गार्डन की खूबसूरत तस्वीरें सोशल मीडिया पर साझा कीं, तो वे देखते ही देखते इंटरनेट पर छा गईं। पातलथौड़ स्थित इको पार्क में बना यह ट्युलिप गार्डन मुख्यमंत्री का ड्रीम प्रोजेक्ट था, जो आखिरकार बन कर तैयार हो गया है। यह पायलट प्रोजेक्ट मुनस्यारी में 1200 वर्गमीटर के क्षेत्र में विकसित किया गया है।

uttarakhand munsiyari tulip garden

इस तरह बिखरी है ट्यूलिप गार्डन की खूबसूरती

ट्यूलिप गार्डन पंचाचूली पर्वतमाला के पीछे स्थित है। इस गार्डन में विभिन्न प्रजाति के ट्यूलिप फूल हैं, जो खास हॉलैंड से मंगवाए गए हैं। इस इको पार्क में पर्यटकों की सुविधा के लिए हट्स और टैंट की भी पूरी व्यवस्था है। कुल मिला कर इको पार्क का पूरा वातावरण प्राकृतिक है, जिससे शहरों की तनाव भरी जिंदगी से यहां आकर लोग प्रकृति के बीच समय बीता पाएं और उनको राहत मिले। हिमनगरी मुनस्यारी में साल भर पर्यटकों की भीड़ लगी रहती है। नैनीताल से तकरीबन 260 किलोमीटर दूर मुनस्यारी का ट्यूलिप गार्डन विश्व के सबसे बड़े ट्यूलिप गार्डनों में से एक होगा, जिससे मुनस्यारी में पर्यटकों की संख्या में इजाफा होगा।

हॉलैंड से मंगवाए गए ट्यूलिप फ्लावर्स

इसके जनक और पिथौरागढ के प्रभागीय वन अधिकारी विनय भार्गव के अनुसार परियोजना के लिए 7000 ट्यूलिप बल्ब हॉलैंड से मंगवाए गये थे और सभी अंकुरित भी हो गये हैं। हॉलैंड के ट्यूलिप दुनिया भर में सबसे ज्यादा प्रसिद्ध हैं। हॉलैंड के डच ट्यूलिप देखने का सबसे अच्छा समय अप्रैल और मई के बीच का होता है। दुनिया में सबसे बड़ा फ्लावर्स पार्क ‘केयूकेनहोफ’ है, जिसे गार्डन ऑफ यूरोप के नाम से भी जाना जाता है। यहां हर साल लाखों फूल खिलते हैं और यह नीदरलैंड के लिस्से में है।

Munsiyari से जुड़ी इन खबरों को भी पढ़ें

Web Title: uttarakhand munsiyari tulip garden

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!