उत्तराखंड की टिहरी झील को पर्यटकों को लिए खोला गया, शर्तों के साथ बोटिंग का उठा सकेंगे लुत्फ

by admin

उत्तराखंड (uttarakhand) की टिहरी झील (tehri lake) को पर्यटकों (tourists) के लिए एक बार फिर से खोल दिया गया है। कोरोना संक्रमण के चलते मार्च से बंद पड़ी झील में जिला प्रशासन की ओर से सशर्त बोटिंग (boating) शुरू करने की मंजूरी दे दी गई है। यहां बोटिंग कराने वालों और पर्यटकों दोनों को ही कोविड 19 एसओपी का पालन करना होगा। झील में फिलहाल स्पीड व सामान्य बोटों का ही संचालन किया जाएगा।

पर्यटकों की होगी थर्मल स्क्रीनिंग
टिहरी विशेष क्षेत्र पर्यटन विकास प्राधिकरण के अनुसार बोट संचालकों को हर व्यक्ति की बोटिंग स्थल से 100 मीटर की दूरी पर थर्मल स्क्रीनिंग करनी होगी। पर्यटक को हर राउंड के बाद सैनिटाइज किया जाएगा। इसके साथ ही बोट संचालकों, ऑपरेटर और हेल्परों को भी अनिवार्य रूप से मास्क पहनना होगा। बोट में पर्यटकों को बैठाते समय शारीरिक दूरी का ध्यान रखना होगा। बोट में जितनी क्षमता है, उससे 50 फीसदी सीटों पर ही पर्यटकों को बैठाना होगा।

tehri lake boating uttarakhand
श्री गंगा भागीरथ बोट यूनियन की ओर से कहा गया है कि गाइडलाइंस के अनुसार झील में स्पीड और सामान्य तरह की बोटों का ही संचालन किया जाएगा। स्पीड बोट और बोट के किराए में फिलहाल किसी तरह की बढ़ोत्तरी नहीं की गई है। पहले की ही तरह स्पीड बोट के लिए 500 रुपये और सामान्य बोट के लिए 300 रुपये देने होंगे। पर्यटकों से अपील की गई है कि वह कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सभी आदेशों का पालन करें।

बताते चलें कि 42 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैली हुई टिहरी झील में मार्च से कोरोना संक्रमण के चलते बोटों का संचालन बंद है। 12 जुलाई को केवल एक दिन के लिए बोट का संचालन झील में हुआ था। इसके बाद बोट लाइसेंस शुल्क माफ करने की मांग को लेकर बोटो का संचालन बंद कर दिया था। यूनियन की ओर से सालभर के लाइसेंस शुल्क 60 हजार रुपये को माफ करने के लिए कहा गया था। वर्तमान में झील में 99 बोटों का संचालन होता है।

Uttarakhand Tehri Lake के बारे में यह भी पढ़ें

Web Title tehri lake in uttarakhand once again opened for tourists boating started

(Tourism News from The Himalayan Diary)

Share this Article on:-

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!