उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी और मैदानी इलाकों में हुई बारिश, प्रदेश में चलने लगी ठंडी हवाएं

by Ravinder Singh

बुधवार को उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी हुई। बर्फ़बारी के साथ कई जगह निचले इलाकों में हल्की बारिश भी हुई। इस कारण प्रदेश में ठंडी हवाएं चलने लगी और पूरे उत्तराखंड में शीतलहरी चल रही है। बर्फबारी के कारण उत्तराखंड के ज्यादातर हिस्से में तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। उत्तराखंड मौसम विभाग ने जानकारी देते हुए बताया कि 2500 मीटर ऊंचाई वाले इलाकों में एक फीट तक बर्फबारी हुई है। देहरादून के चकार्ता और मसूरी के धनौल्टी में बर्फबारी और बारिश हुई, जबकि निचले इलाकों में बारिश हुई है। मौसम विभाग के निदेशक के अनुसार केदानाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री में भी बर्फबारी हुई।

उन्होंने बताया कि कल दोपहर को बर्फबारी, बारिश तथा राज्य में ठंडी हवा चलने के कारण ठंड बढ़ गई। प्रदेश के कई हाइवे पूरी तरह से बर्फ से ढक गए है। क्षेत्रीय मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि केदारनाथ, हेमकुंड, गौमुख, बद्रीनाथ, सुरकांडा और मसूरी के पास नाग टिब्बा से बर्फबारी की सूचना मिली है। वहीं नेलांग घाटी में भी भारी बर्फबारी हुई है। राज्य की राजधानी में सुबह से रुक-रुक कर हो रही बारिश और तेज हवाओं ने लोगों को घर के अंदर ही रहने को मजबूर कर दिया है। इसके अलावा मुंडाली, खंडबा, देववन, जाडी व मिडांल समेत आसपास क्षेत्र में बर्फबारी से क्षेत्र में ठंडक बढ़ गई है।

मिनी स्विट्जरलैंड के नाम से विख्यात चोपता-दुगलबिट्टा में भी बर्फबारी हुई। हालांकि बर्फबारी का पर्यटकों में खासा उत्साह देखा गया। पर्यटकों ने जमकर बर्फबारी का आनंद लिया। मौसम विभाग ने अनुमान जताया है कि आज भी प्रदेश में इसी तरह का मौसम बना रहेगा। उत्तराखंड के अलावा हिमाचल प्रदेश और जम्मू कश्मीर में भी बर्फबारी हुई। हिमाचल प्रदेश के रोहतांग, शिमला, गुलाबा, कोठी और मढ़ी सहित अन्य पहाड़ी स्थलों पर बर्फबारी हुई।

जम्मू-कश्मीर में एलओसी से सटे केरन, कर्नाह, माछिल, तंगधार और गुरेज में बर्फबारी के चलते हाईवे बंद हैं। यहां पिछले तीन दिनों से रुक-रुक कर बर्फबारी हो रही है। पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी का असर दिल्ली सहित अन्य राज्यों पर भी देखने को मिल रहा है। मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली में 15 दिसंबर तक तापमान में 5-6 डिग्री तक की कमी हो सकती है।

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!