पर्वतीय इलाकों में बर्फबारी के कारण कड़ाके की ठंड, केदारनाथ धाम में 3 इंच तक जमी बर्फ

by Ravinder Singh

इन दिनों उत्तराखंड के पर्वतीय इलाकों में हिमपात का दौर जारी है। इससे जहां पहाड़ों पर तापमान में तेजी से गिरावट आई है, वहीँ मैदानी इलाकों में ठंडी हवाओं ने लोगों को गर्म कपड़े पहनने पर मजबूर कर दिया है। बात करे केदारनाथ धाम की तो वहां पर भी रुक-रुककर बारिश और बर्फबारी का दौर जारी है। मंगलवार को निकली धूप ने जरुर लोगों को थोड़ी राहत दी थी, लेकिन एक बार फिर से यहां बर्फबारी का दौर शुरू हो गया है। केदारनाथ धाम में भारी बर्फबारी होने के कारण केदारपुरी के चारों तरफ लगभग 3 इंच तक बर्फ जम गई है। इससे तापमान में भारी गिरावट आई है।

बर्फबारी के कारण बाबा के दर्शनों के लिए गए आने वाले भक्तों को भी खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। केदारनाथ धाम में हुई बर्फबारी से चारों ओर बर्फ की सफेद चादर बिछ गई है। मंगलवार को केदारनाथ में सुबह से ही तेज धूप निकल गई थी, जिसके कारण लोगों ने राहत की महसूस की। लेकिन दोपहर में अचानक एक बार फिर से मौसम ख़राब हुआ। कुछ ही देर में चारों तरफ घना कोहरा छा गया और बर्फबारी का दौर शुरू हो गया। बर्फबारी के कारण केदारनाथ धाम में तापमान 2 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है।

केदारनाथ धाम के अलावा बद्रीनाथ, हेमकुंड और औली सहित ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी होने से तापमान में गिरावट महसूस की गई है। पहाड़ों पर बर्फबारी का असर मैदानी इलाकों भी देखा जा रहा है। मैदानी इलाकों में दिन में जहां धूप खिलती है, वहीँ सुबह और शाम के समय ठंड का अहसास होता है। देहरादून में न्यूनतम तापमान 11.6 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक ने कहा कि प्रदेश के पर्वतीय क्षेत्रों में पिछले एक सप्ताह के दौरान बारिश और हिमपात पश्चिमी विक्षोभ के कम दबाव के कारण हुआ। अब इसमें परिवर्तन आने की संभावना है।

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!