हिमाचल के शक्तिपीठों में श्रावण अष्टमी मेले की शुरुआत, श्रद्धालुओं की उमड़ी भीड़

by Ravinder Singh

हिमाचल प्रदेश के सभी शक्तिपीठों में श्रावण अष्टमी मेले (shravan ashtami fair himachal) की बीते गुरुवार से शुरुआत हो गई है। 1 अगस्त से शुरू हुए यह मेले 9 अगस्त तक चलेंगे। इन मेलों की शुरुआत होते ही शक्तिपीठों में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ देखी जा रही है। हिमाचल प्रदेश ही नहीं देश के अन्य प्रदेशों से भी श्रद्धालु हिमाचल प्रदेश के शक्तिपीठों में माता के दर्शन करने के लिए पहुंच रहे हैं। गुरुवार सुबह से ही प्रदेश के शक्तिपीठों मां चामुंडा, मां चिंतपुर्णी, मां ब्रजेश्वरी देवी, मां ज्वालाजी और नैना देवी मंदिर पर श्रद्धालु पहुंचने लगे थे। श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए प्रशासन ने भी सुविधा और सुरक्षा के पूरे इंतजाम किए हैं। बड़ी संख्या में शक्तिपीठों पर सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है।

श्रद्धालुओं की भारी भीड़

मां नैना देवी में गुरुवार सुबह आरती के साथ ही श्रावण अष्टमी मेले का शुभारम्भ हो गया था। माता के दर्शन करने के लिए सुबह-सुबह ही बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे। इस दौरान मंदिरों में लंबी-लंबी कतार देखी गई। श्रावण अष्टमी मेले में पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, यूपी, बिहार, उत्तराखंड सहित अन्य प्रदेशों से भी श्रद्धालु पहुंचते हैं। श्रावण अष्टमी मेले के दौरान मंदिर रात को 12 बजे से सुबह 2 बजे तक बंद रहता है। श्रद्धालुओं की सुविधा और सुरक्षा को देखते हुए सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है। मां नैना देवी शक्तिपीठ पर पुलिस के 1200 जवानों को तैनात किया गया है। पूरे मेला क्षेत्र के 9 सेक्टर बनाए गए हैं और हर सेक्टर की समीक्षा की जा रही है।

shravan ashtami fair himachal
सुरक्षा के खास इंतजाम

प्रसिद्ध शक्तिपीठ चिंतपूर्णी में सुरक्षा की दृष्टि से एक हजार से अधिक पुलिस और होमगार्ड जवान तैनात किए गए हैं। यहां माता के दर्शन करने के लिए श्रद्धालुओं को पहले पर्ची लेनी होगी। दो जगहों पर पर्ची उपलब्ध रहेगी। इसके अलावा मेला क्षेत्र में 130 अस्थाई शौचालय बनाए गए हैं। चिंतपूर्णी में मेला क्षेत्र को दस सेक्टरों में बांटा गया है। मां चामुंडा शक्तिपीठ में सुरक्षा की दृष्टि से 150 जवान तैनात हैं। इसके अलावा परिसर में 24 अतिरिक्त सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए हैं। इसके अलावा बज्रेश्वरी देवी मंदिर में श्रद्धालुओं की सुरक्षा को लेकर लगभग 90 से अधिक सुरक्षा कर्मियों की तैनाती की गई है, वहीं ज्वालामुखी मंदिर में दो पुलिस बटालियन ड्यूटी पर तैनात रहेंगी।

shravan ashtami fair himachal

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!