औषधीय गुणों से भरपूर है बुरांश के फूल, पहाड़ी इलाकों में बनाई जाती है चटनी

by Ravinder Singh

बुरांश को उत्तराखंड के राज्य वृक्ष होने का दर्जा प्राप्त है, वहीं इसे नेपाल का राष्ट्रीय पुष्प भी कहा जाता है। यह एक औषधीय फूल है। जिनका इस्तेमाल दवाई बनाने के लिए भी किया जाता है। गर्मी की शुरुआत में उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश के पर्वतीय क्षेत्रों में इसके फूल खिलते हैं। पहाड़ी इलाकों में लोग बुरांश के फूलों (burans flower) का जूस बनाकर पीते हैं, जो गर्मियों में बहुत लाभकारी होता है। अचार, चटनी, जैम, जैली के रूप में भी इसका सेवन किया जाता है। इसकी चटनी स्थानीय लोगों में काफी पसंद की जाती है। तो चलिए आज जानते है कि बुरांश के फूलों की चटनी (burans flower chutney) कैसे बनाई जाती है।

सामग्री

बुरांश के फूल

पुदीना – एक कटोरी

धनिया – एक कटोरी

प्याज – एक

हरी मिर्च – पांच

नींबू – दो

चीनी – तीन चम्मच

नमक – स्वादानुसार

burans flower chutney

Source – Medium

कैसे बनाई जाती है बुरांश के फूलों की चटनी

इसे बनाने के लिए सबसे पहले बुरांश के फूलों को साफ करके पंखुड़िया अलग कर लेते हैं। इसके बाद पंखुड़ियों को अच्छी तरह पानी से धोया जाता है। इसके बाद एक जार में बुरांश के फूल, पुदीना, धनिया, प्याज, हरी मिर्च, चीनी और नमक डालकर अच्छी तरह से पीसा जाता है। इसके बाद जार में नींबू निचोड़कर उसे एक बार फिर से चलाया जाता है। कुछ इस तरह से तैयार होती है स्वादिष्ट पहाड़ी बुरांश के फूलों की चटनी। इसे चावल दाल और रोटी सब्जी दोनों के साथ ही खाया जा सकता है। यह खाने में जितनी स्वादिष्ट होती है, उतनी ही स्वास्थ्य के लिए लाभकारी भी होती है।

पहाड़ों के इन स्वादिष्ट व्यंजनों के बारे में भी जानें 

Web Title recipe of burans flower chutney

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!