गुलमर्ग की खूबसूरती के बीज बसा है असाधारण महारानी मंदिर, भगवान शिव और मां पार्वती को है समर्पित

by Ravinder Singh

जम्मू कश्मीर (jammu kashmir) की खूबसूरत वादियों के बीच बसा गुलमर्ग (gulmarg) एक छोटा सा हिल स्टेशन है। फूलों के प्रदेश के नाम से मशहूर यह स्थान बारामूला जिले में है। गुलमर्ग को जम्मू कश्मीर के प्रमुख पर्यटन स्थमलों में से एक माना जाता है। गुलमर्ग के मुख्य चारागाहों में से एक के किनारे पर एक असाधारण मंदिर है। इस मंदिर को महारानी मंदिर (maharani temple) कहा जाता है। भगवान शिव और माता पार्वती को समर्पित इस मंदिर का निर्माण साल 1915 में कश्मीर के महाराजा रहे हरी सिंह की पत्नी मोहिनी बाई सिसोधिया ने करवाया था। वह इस मंदिर में पूजा अर्चना किया करती थीं। इसलिए इस मंदिर को महारानी मंदिर कहा जाता है। मंदिर हिंदू वास्तुकला शैली में बना हुआ है। इसे डोगरा राजवंश का शाही मंदिर कहा जाता है।

फिल्मी गाने ने दी दुनिया में पहचान

यह मंदिर “मोहिनेश्वरी शिवालया” के नाम से भी प्रसिद्ध है। इस मंदिर का निर्माण काफी ऊंचाई पर किया गया है। इसे गुलमर्ग के किसी भी स्थान से देखा जा सकता है। मंदिर में भगवान शिव और माता पार्वती की प्रतिमा स्थापित है। हर साल हजारों की संख्या में श्रद्धालु मंदिर में दर्शन करने के लिए पहुंचते हैं। श्रद्धालु मंदिर के शांत वातावरण में कुछ समय बिताना पसंद करते हैं। दुनिया ने पहली बार इस मंदिर की झलक राजेश खन्ना और मुमताज स्टारर ‘आप की कसम’ फिल्म में देखी थी। फिल्म का मशहूर गाना ‘जय जय शिव शंकर, कांटा लगे ना कंकड़…’, इसी मंदिर में फिल्माया गया था। इसके बाद से यह मंदिर पॉपुलर टूरिस्ट डेस्टिनेशन बन गया।

अद्भुत प्राकृतिक खूबसूरती

हिंदू वास्तुकला शैली में बना यह मंदिर जितना खूबसूरत है, उतना ही खूबसूरत इसके आसपास का प्राकृतिक वातावरण है। पहाड़ी स्थान पर बना होने के कारण मंदिर से आसपास का खूबसूरत नजारा देखने को मिलता है। मंदिर में दर्शन करने के अलावा पर्यटक यहां स्कींग और गोंडोला राइड का भी लुफ्त उठा सकते हैं। गोंडोला राइड जो कि केबल कार सिस्टम है, गुलमर्ग का प्रमुख आकर्षण है। इस राइड में आप पूरे हिमालय पर्वत और गोंडोला गांव को देख सकते हैं। वहीं स्कींग के लिए गुलमर्ग देश के सबसे अच्छे स्थानों में से एक है। इसके अलावा यहां गॉल्फ कोर्स, खिलनमर्ग, अलपाथर झील, निंगली नल्लाबह जैसे पर्यटन स्थल भी हैं।

कैसे पहुंचें महारानी मंदिर

गुलमर्ग पहुंचने के लिए आप रेल मार्ग, सड़क मार्ग और हवाई मार्ग का उपयोग कर सकते हैं। यहां से नजदीकी रेलवे स्टेशन 314 किलोमीटर दूर जम्मू में है। मुंबई, पुणे और चंडीगढ से जम्मू के लिए ट्रेन चलती हैं। यहां से निकटतम हवाई अड्डा करीब 55 किलोमीटर दूर श्रीनगर में है। दिल्ली से यहां के लिए नियमित उड़ानें मिलती हैं। गुलमर्ग सड़क मार्ग द्वारा श्रीनगर सहित जम्मू-कश्मीर के कई शहरों से जुड़ा हुआ है। दिल्ली से गुलमर्ग की दूरी 875 किलोमीटर है।

maharani temple gulmarg

 

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!