जहां हर स्कीम हुई फेल, वहीं लॉकडाउन से हुआ कमाल! हरिद्वार-ऋषिकेश में पीने लायक हुआ गंगा का पानी

by Content Editor

कोरोना वायरस के चलते देशभर में लॉकडाउन है। इसका असर पर्यावरण पर भी देखने को मिल रहा है। खासतौर पर देश के महानगरों की हवा में प्रदूषण की मात्रा सबसे निचले स्तर तक पहुंच गई है। यही हाल नदियों का भी है। सबसे बड़ा बदलाव गंगा नदी के प्रदूषण में देखा गया है। जहां गंगा को साफ करने के लिए कई तरह की स्कीम चलाई जा रही हैं, लॉकडाउन (lockdown) का गंगा जल पर असर (effect) साफ दिखने को मिल रहा है। खुशखबरी की बात यह है कि हरिद्वार और ऋषिकेश में गंगा (ganga river) का पानी पीने योग्य (water quality) हो गया है।

बीते 15 दिनों में गंगा का जलस्तर 336.90 आरएल मीटर है। जबकि बीते साल गंगा में दस एमएलडी जलस्तर कम आंका गया था। लॉकडाउन के चलते लोग घर से नहीं निकल पा रहे हैं। इससे गंगा का पानी का शुद्ध हो गया है। टीओआई के ट्रैवल पोर्टल, टाइम्स ट्रैवल की रिपोर्ट के हिसाब से गुरुकुल कांगड़ी यूनिवर्सिटी के पर्यावरण वैज्ञानिक बी.डी. जोशी का कहना है कि काफी लंबे समय के बाद गंगा का पानी ‘आचमन’ के योग्य हुआ है। हिन्दू धर्म में ‘आचमन’ पानी पीने और अर्पित करने की एक प्रक्रिया होती है।

lockdown effect on ganga river water quality

गंगा के साफ पानी की वजह इसके पानी में घुले डिसॉल्वड सॉलिड की मात्रा में आई 500 प्रतिशत की कमी है। धर्मशाला, सीवर, होटल-लॉज से आने वाले प्रदूषकों में कमी की वजह से ऐसा हुआ है। गंगा सभा के अनुसार गंगा कभी इतनी साफ नहीं दिखाई दी। इसके पानी की गुणवत्ता में आया असर साफ दिखाई दे रहा है। ऋषिकेश में इस पानी को डिसइंफेक्ट कर पिया जा सकता है। हरिद्वार में ये नहाने योग्य है और कुछ ट्रीटमेंट के बाद पीने योग्य है।

केंद्रीय जल आयोग के अनुसार लॉकडाउन के दौरान गंगा का जलस्तर और शुद्धता की लगातार जांच की जा रही है। जिसमें अब गंगा की शुद्धता 8.50 डियो नापी गई है। जबकि इससे पहले यह 9.50 डियो था। बताया कि पिछले साल गंगा की शुद्धता 11.50 डियो थी। उन्होंने बताता कि बीते साल एक से सात अप्रैल तक गंगा का जलस्तर भी दस एमएलडी कम था। जबकि इन दिनों गंगा में अधिक जल बह रहा है।

इन लोकप्रिय खबरों को भी पढ़ें 

Web Title lockdown effect on ganga river water quality in haridwar

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!