हिमाचल में सस्ता होगा जाम छलकाना, पर्यटन स्थलों के पास रात 2 बजे तक खुले रहेंगे बार

by Ravinder Singh

भाग-दौड़ भरी जिंदगी से होने वाले तनाव को कम करने और रोमांच लाने के लिए हर साल लाखों पर्यटक हिमाचल प्रदेश (himachal pradesh) का रुख करते हैं। यहां आकर पर्यटक चिंताओं से मुक्त होकर खूब मस्ती करते हैं। इस दौरान कई पर्यटक जाम का सहारा भी लेते हैं। जाम के शौकीन ऐसे पर्यटकों के लिए खुशखबरी है कि अब हिमाचल प्रदेश (himachal pradesh) में उन्हें सस्ती शराब (inexpensive liquor) मिलने वाली है। इसके अलावा पर्यटकों को अब दोपहर 12 से रात 2 बजे तक पर्यटन स्थलों पर स्थित होटलों और बार में शराब मिल सकेगी। इससे जाम के शौकीन पर्यटकों के रोमांच में बढ़ोतरी होगी।

नई आबकारी नीति को मंजूरी

दरअसल हिमाचल प्रदेश सरकार ने वर्ष 2020-21 के लिए नई आबकारी नीति को मंजूरी दी है। इसके तहत अब प्रदेश में शराब पर टैक्स घटाया जाएगा। इससे प्रदेश में शराब सस्ती हो जाएगी। जिससे बाहरी राज्यों से हिमाचल प्रदेश में होने वाली शराब तस्करी पर लगाम लगाई जा सकेगी। सरकार के नई नीति के अनुसार अगले वित्त वर्ष से राज्य में आयातित शराब की आपूर्ति राज्य में स्थित पब्लिक कस्टम बाऊंडिड गोदाम से की जाएगी। नई नीति के अनुसार सभी सितारा होटलों और विशेष पर्यटन क्षेत्रों में बार में शराब परोसने पर विशेष छूट भी दी गई है। इसके अलावा इन स्थानों पर दोपहर 12 से मध्य रात्रि 2 बजे तक शराब उपलब्ध हो पाएगी।

liquor inexpensive himachal pradesh

Source – The News Himachal

सड़कें होगी चौड़ी

बता दें कि अब तक प्रदेश में शराब महंगी होने के कारण बाहरी राज्यों से हिमाचल प्रदेश में शराब की तस्करी की जाती थी। शराब तस्करों के निशाने में बड़ी संख्या में हिमाचल प्रदेश आने वाले पर्यटक होते हैं। शराब सस्ती होने से शराब के शौकीन पर्यटक तस्करों के चंगुल में फंसने से बचेंगे। सरकार ने नई शराब नीति के साथ-साथ प्रदेश की पांच महत्वपूर्ण सड़कें चौड़ी करने को भी मंजूरी दे दी है। इनमें कलखड से मंडी, नालागढ़-बद्दी वाया रामशहर और धरोल से दरोर आदि सड़कें शामिल हैं। योजना के तहत 650 किलोमीटर सड़कें अपग्रेड की जानी हैं, जबकि 1350 किलोमीटर सड़कों की मरम्मत होगी। इससे स्थानीय लोगों के साथ पर्यटकों को भी काफी आसानी होगी।

इन लोकप्रिय खबरों को भी पढ़ें 

Web Title liquor will be inexpensive in himachal pradesh

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!