करवा चौथ और दीवाली का मजा होगा दोगुना, पाएं हिमाचल के होटलों में 'फ्री ऑफर'

by Content Editor

karwa chauth booking – करवा चौथ का त्योहार कार्तिक मास की चतुर्थी को मनाया जाता है। इस साल यह त्योहार 17 अक्टूबर को मनाया जाएगा। इस अवसर पर हिमाचल प्रदेश पर्यटन विकास निगम (एचपीटीडीसी) ने विशेष पैकेज जारी करने का निर्णय किया है। इस अवसर विभाग ने होटलों में कमरों की बुकिंग सस्ती कर दी गई है। दीवाली के दौरान 16 से 18 अक्तूबर तक दो रात की होटल बुकिंग पर तीसरी रात का ठहराव पूरी तरह से फ्री होगा। यह खास सुविघा एचपीटीडीसी के प्रदेश में स्थित सभी होटलों में मान्य होगी। सरगी के तौर पर परोसे जाने वाली फैनी, फल, दूध, गुलाब जामुन बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के उपलब्ध करवाए जाएंगे। साथ ही अर्घ्य, पूजा की थाली और करवा (चावल, उड़द दाल, दूर्वा, फूल व कुंगु) भी बिना किसी शुल्क के दिया जाएगा। करवाचौथ का दूसरा सामान जैसे कि ड्राई फ्रूट, पुना, सुहागी (बिंदी, चूड़ी, काजल, रिब्बन, मेंहदी) भी एचपीटीडीसी ही उपलब्ध कराएगा। हालांकि, इसका ग्राहकों को भुगतान करना होगा।karwa chauth booking

karwa chauth booking

करवा चौथ के मौके पर दंपती व्रत रखते हैं। ऐसे में व्रत के समय अलग से थाली की भी व्यवस्था भी की गई है। इसके लिए प्रति व्यक्ति 350 रुपये और जीएसटी देना पड़ेगा। निगम की प्रबंध निदेशक ने इस संबंध में सभी होटल प्रबंधकों को विशेष दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। दीवाली पैकेज के तहत रात को लक्ष्मी पूजन की व्यवस्था होटलों के परिसरों में की जाएगी।  इस अवसर के लिए एचपीटीडीसी की संपत्तियों को दीयों की रौशनी के साथ विशेष तौर पर सजाया जाएगा।

इस पर्व पर हिमाचल में काफी संख्या में सैलानी आते हैं। इसके दृष्टिगत निगम के होटलों द्वारा उनके ठहराव को सुविधाजनक बनाने के लिए सभी आवश्यक प्रबंध किए गए हैं। करवाचौथ पति और पत्नी के बीच साझा किए गए पवित्र बंधन को दर्शाता है। विवाहित जोड़े इस त्योहार को निगम के होटलों में मनाकर यादगार बना सकते हैं।

करवा चौथ पूजा महूरत

शाम 5:50 से 7:06
ये मुहूर्त एक घंटे 15 मिनट का है।

करवा चौथ के व्रत का समय

सुबह 6:21 से रात 8:18 तक
उपवास का समय 13 घंटे 56 मिनट है।
चांद निकलने का समय: 8:18 रात

कश्मीर में​ फिर से घूम सकेंगे पर्यटक, जून तक आए थे 3.70 लाख पर्यटक
हिमाचल की खूबसूरत ऑफबीट जगहों में से एक है जुब्बल, बनाएं घूमने का प्लान
शिमला के नजदीक एक सुरम्य पहाड़ी स्थल है नालदेहरा

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!