केदारनाथ धाम में सुविधाओं के विकास के लिए योजना तैयार

by Ravinder Singh

केदारनाथ धाम (kedarnath dham) में सुविधाओं के संबंध में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा है कि यहां पहुंचने वाले श्रद्धालुओं की संख्या में तेजी से वृद्धि हुई है। ऐसे में वहां अवस्थापना सुविधाओं (infrastructure facilities) पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने कहा है कि केदारनाथ धाम और बद्रीनाथ धाम आने वाले श्रद्धालु पंच बद्री व पंच केदार के भी दर्शन कर सकें, इसके लिए पर्यटन विभाग की वेबसाइट व अन्य माध्यमों से इन प्रमुख धार्मिक स्थलों का व्यापक प्रचार प्रसार किया जाएगा।

रैन बसेरे का निर्माण

मुख्यमंत्री ने बताया है कि रूद्रप्रयाग के जिलाधिकारी से बातचीत कर केदारनाथ में अवस्थापना विकास संबधी कार्यों का डिजाइन बनाया जाएगा। केदारनाथ धाम आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए हर संभव मदद की जाएगी। इस मामले को लेकर बद्री-केदार मंदिर समिति के अध्यक्ष ने बताया कि केदारनाथ धाम की यात्रा के संचालन और श्रद्धालुओं की सुविधाओं को देखते हुए अवस्थापना विकास जरूरी हैं। यहां साल 2013 में हुई भीषण तबाही में मंदिर समिति की पूजा और व्यवस्था संबंधी आधारभूत संरचनाएं नष्ट हो गई थीं। ऐसे में मंदिर परिसर के पास ही भोग मण्डी, मठ भंडार, तोषाखाना, रावल निवास, पुजारी निवास, कार्यालय व कार्मिकों के लिए आवास बनने हैं। इनके अलावा श्रद्धालुओं की सुविधा को देखते हुए एक रैन बसेरे का निर्माण भी किया जाना है।

kedarnath Infrastructure facilities
बिरला ग्रुप करेगा सहयोग

केदारनाथ धाम में अवस्थापना विकास संबधी कार्यों में आदित्य बिरला ग्रुप से भी सहयोग लिया जा सकता है। जानकारी के अनुसार विकास संबधी कार्यों के लिए जमीन मिलने पर आदित्य बिरला ग्रुप सहयोग करने के लिए तैयार है। खबर के अनुसार बिरला ग्रुप ने केदारनाथ धाम में 200 लोगों के ठहरने के लिए रैन बसेरा, रावल व पुजारी निवास, तोषाखाना, डिस्पेंसरी, पूजा कार्यालय, आरती-पूजा कक्ष,पंथेर कक्ष, प्रशासनिक भवन, पूछताछ कक्ष व भोग मंडी बनाने पर सहमति जताई है।

इन लोकप्रिय खबरों को भी पढ़ें 

Web Title infrastructure facilities in kedarnath dham

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!