हिमाचल प्रदेश में शुरू हुआ बर्फबारी का दौर शुरू, विभाग ने जारी किया 6 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

by Ravinder Singh

प्राकृतिक सौंदर्य और ऐतिहासिक धार्मिक स्थलों के लिए लोकप्रिय हिमाचल प्रदेश की खूबसूरती को इन दिनों मौसम का ग्रहण लगा हुआ है। हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश के कारण वहां का जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। बारिश का प्रभाव हिमाचल प्रदेश के पर्यटन पर भी पड़ रहा है। मौसम विभाग के अनुसार अभी हिमाचल प्रदेश के लोगों को बारिश से निजात मिलने के आसार कम है। विभाग ने प्रदेश के 6 जिलों में भारी बारिश होने का अलर्ट जारी किया है। शुक्रवार को शिमला में सुबह दो घंटे तक जमकर बारिश हुई। इसी बीच प्रदेश के ऊंचे पहाड़ों में भी बर्फबारी का दौर शुरू हो गया है।

इस साल हिमाचल प्रदेश में बारिश के कारण सबसे ज्यादा कांगड़ा और ऊना क्षेत्र प्रभावित हुए है। प्रदेश की राजधानी शिमला में भी सामान्य से करीब 14 प्रतिशत ज्यादा बारिश दर्ज की गई है। मौसम विभाग ने जानकारी देते हुए बताया कि मनाली के रोहतांग पास और किन्नौर में किन्नर कैलाश पर्वत पर बर्फबारी हुई है। बर्फबारी के कारण किन्नौर के वातावरण में ठंडक बहुत ज्यादा बढ़ गई है और शीतलहर का दौर शुरू हो गया है। इस कारण यहां के तापमान में भी भारी गिरावट दर्ज की गई है। इसके अलावा मौसम विभाग ने प्रदेश में स्थित ऊंचे पहाड़ों पर बर्फबारी होने के कारण वहां के तापमान में भी भारी गिरावट होने का अंदेशा जाहिर किया है।

मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार हिमाचल प्रदेश में 15 सितंबर तक मौसम ख़राब रहेगा। मौसम विभाग ने बताया है कि पश्चिमी विक्षोभ के दोबारा सक्रिय होने के कारण शिमला, सोलन, सिरमौर, कुल्लू, मंडी और चंबा सहित अधिकांश क्षेत्रों में शुक्रवार से 2 दिनों तक भारी बारिश हो सकती है। ऐसे में स्थानीय नागरिकों और पर्यटकों से विशेष सावधानी रखने के लिए कहा गया है। खराब मौसम के कारण हिमाचल प्रदेश के पर्यटन पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। भारी बारिश के कारण राज्य में आने वाले पर्यटकों की संख्या में कमी आई है।

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!