कोरोना वायरस के डर पर भारी पड़ रही है बाबा बालक नाथ मंदिर के श्रद्धालुओं की आस्था

by Ravinder Singh

देवों की भूमि हिमाचल प्रदेश के प्रसिद्ध बाबा बालक नाथ मंदिर (baba balak nath temple) में चैत्र माह मेले का शुभारंभ हो गया है। मेले में बड़ी संख्या में श्रद्धालु देश और विदेश से पहुंच रहे हैं। खास बात यह है कि बाबा बालक नाथ मंदिर (baba balak nath temple) में भक्तों की आस्था कोरोना वायरस (corona virus) के खौफ पर भारी पड़ती नजर आ रही है। कोरोना वायरस जैसी महामारी के बावजूद यूके, कनाडा और ग्रीस समेत विभिन्न देशों से श्रद्धालु बड़ी संख्या में बाबा बालक नाथ मंदिर पहुंच रहे हैं। वही बारिश और ठंड के बावजूद पंजाब, हरियाणा, दिल्ली व राजस्थान समेत देश के कोने-कोने से श्रद्धालु चैत्र माह मेले में भाग लेने के लिए पहुंच रहे हैं।

प्रशासनिक अमला सतर्क

मंदिर के महंत का कहना है कि भक्तों की बाबा बालक नाथ के प्रति गहरी आस्था है, यही वजह है कि हर साल लाखों की संख्या में श्रद्धालु बाबा के दरबार में पहुंचते हैं। इस वर्ष भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु बाबा का आशीर्वाद लेने के लिए पहुंच रहे हैं। हालांकि इतनी बड़ी संख्या में श्रद्दालुओं के एक जगह पहुंचने से जिला प्रशासन भी अलर्ट मोड़ पर है। प्रशासनिक अमला कानून व्यवस्था व स्वास्थ्य सुविधाएं श्रद्धालुओं को उपलब्ध करवाने में लगा रहा। एसडीएम एवं मंदिर चेयरमैन का कहना है कि कोरोना वायरस की रोकथाम और स्क्रीनिंग के लिए मेडिकल सेंटर खोले गए हैं। विदेशों से आने वाले श्रद्धालुओं की पूरी जांच के बाद ही उन्हें मंदिर में प्रवेश की अनुमति दी जा रही है।

baba balak nath temple

Source – amar ujala

बाबा बालक नाथ मंदिर दियोटसिद्ध

गौरतलब है कि बाबा बालक नाथ मंदिर हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर जिले के चकमोह गांव की पहाड़ी पर स्थित है। यह उत्तरी भारत का दिव्य सिद्ध पीठ है। इस पूजनीय स्थल को “दयोटसिद्ध” के नाम से जाना जाता है। बाबा बालकनाथ जी हिंदू आराध्य हैं, जिनको उत्तर-भारतीय राज्य हिमाचल प्रदेश, पंजाब, दिल्ली में बहुत श्रद्धा से पूजा जाता है। बाबा बालक नाथ के इस पवित्र मंदिर में एक प्राकॄतिक गुफा है। माना जाता है कि यही बाबा बालक नाथ का निवास स्थान है। मंदिर परिसर में बाबाजी की एक मूर्ति स्थित है। भक्त बाबाजी को आटे, चीनी/गुड और घी से बना रोट चढाते हैं।

इन लोकप्रिय खबरों को भी पढ़ें 

Web Title devotees reaching baba balak nath temple despite fear of corona virus

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!