प्रकृति और जीवों से है प्यार तो एक बार जरूर करें दाचीगम सेंक्चुरी का दीदार

by Ravinder Singh

dachigam national park srinagar – अगर आप प्रकृति और पशु-पक्षियों से प्यार करते हो, तो आपको एक बार जम्मू कश्मीर के श्रीनगर के विख्यात पर्यटन स्थल दाचीगम वन्यजीव अभयारण्य का दीदार जरूर करना चाहिए। यह प्रसिद्द अभयारण्य समुद्रतल से अधिकतम 14000 फीट और न्यूनतम 5500 फीट की ऊंचाई वाले क्षेत्र में बना हुआ है। 141 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में बने हुए दाचीगम वन्यजीव अभयारण्य को साल 1951 में राष्ट्री य उद्यान घोषित किया गया था।

दो खंडों में विभाजित है अभयारण्य

दाचीगम का मतलब होता है दस गांव। यह नाम इसलिए रखा गया है क्योंकि इस अभयारण्य की स्थापना से पहले यहां दस गांव मौजूद थे। श्रीनगर से लगभग 22 किलोमीटर दूर स्थित इस अभयारण्य को जम्मू कश्मीर के प्रमुख पर्यटन स्थलों में से एक माना जाता है। दाचीगम वन्यजीव अभयारण्य मुख्य रूप से दो खंडों में विभाजित है। एक खंड को ऊपरी दाचीगम और दूसरे खंड को निचला दाचीगम कहा जाता है। पर्यटक निचले दाचीगाम का आनंद तो आसानी से ले सकते हैं, लेकिन ऊपरी दाचीगम का सफर करने के लिए पर्यटकों को थोड़ी ट्रैकिंग करनी पड़ती है।

इसे भी पढ़ें – रोमांच के शौकीनों के लिए बर्फीले पहाड़ों से घिरा काजा स्वर्ग से कम नहीं

रहते हैं कई तरह के पशु-पक्षी

दाचीगम वन्यजीव अभयारण्य देशी ही नहीं, बल्कि विदेशी पर्यटकों के बीच भी काफी लोकप्रिय है। खासकर गर्मी के मौसम में यहां बड़ी संख्या में पर्यटक पहुंचते हैं। यहां आकर पर्यटक काले और भूरे भालू, तेंदुए, कस्तूरी मृग और प्रवासी पक्षियों का दीदार कर सकते हैं। यह अभयारण्य विशेषकर लाल हिरण जिसे हंगुल भी कहा जाता है, के लिए भी प्रसिद्द है। इनके अलावा दाचीगम वन्यजीव अभयारण्य में हिमालय नौसिकुआ, हिमालय नेवला, पीले गले वाला नेवला, तेंदुए, लंबी पूंछ वाले नीले मैगपाई, पहाड़ी लोमड़ी, सियार जैसे पशु और रक्त तीतर, दाढ़ी वाले गिद्ध, गोल्डन ईगल, और लाल टैपगोन जैसे पक्षी भी रहते हैं। वसंत और शरद ऋतु में निचले इलाकों में हिमालयी काले भालू को आसानी से देखा जा सकता है।

Image result for dachigam national park

इसे भी पढ़ें – खूबसूरती के लिए पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है हिमाचल में स्थित ‘मिनी इजरायल’ कसाेल

अनोखी है प्राकृतिक खूबसूरती

प्रकृति से प्यार करने वालों के लिए भी यहां की खूबसूरती किसी खजाने से कम नहीं है। अभयारण्य में मौजूद झीलें, नदियां, फूलदार घास के मैदान, झरने और घने शंकुधारी जंगल इसे एक आदर्श प्राकृतिक पर्यटक स्थल बनाते हैं। दाचीगम वन्यजीव अभयारण्य की प्राकृतिक खूबसूरती देखते ही बनती है। यह वह क्षेत्र है, जहां कभी जम्मू कश्मीर के राजा शिकार किया करते थे। इस पार्क में आप जीप और एलीफेंट सफारी का मजा भी ले सकते हैं। हिमालय की तलहटी में स्थित होने के कारण यहां का वातावरण गर्मियों के दौरान भी अनुकूल बना रहता है। यहां साल के किसी भी मौसम में आया जा सकता है, लेकिन अप्रैल से अक्टूबर के बीच का समय यहां आने के लिए एकदम परफेक्ट है। सर्दियों के मौसम में हवा, बर्फ और कम तापमान के कारण यहां के हालात थोड़े विपरीत हो जाते हैं।

कैसे पहुंचें दाचीगम वन्यजीव अभयारण्य

श्रीनगर से सड़क मार्ग द्वारा आसानी से दाचीगम वन्यजीव अभयारण्य तक पहुंचा जा सकता है। श्रीनगर देश के प्रमुख बड़े शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। इस अभयारण्य से नजदीकी हवाई अड्डा लगभग 22 किलोमीटर दूर श्रीनगर में स्थित है जबकि यहां से निकटतम रेलवे स्टेशन 310 दूर जम्मू में स्थित है।

dachigam national park srinagar

इसे भी पढ़ें – 14 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित है एशिया का सबसे ऊंचा पुल

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!