Chardham Yatra: अब जरूरी नहीं कोविड जांच की निगेटिव रिपोर्ट, सिर्फ ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाना होगी

by admin

उत्तराखंड (uttarakhand) में अनलाॅक-4 के तहत बाहरी राज्यों से आने वाले तीर्थ यात्रियों के लिए चारधाम यात्रा (chardham yatra) के दौरान कोविड (covid) निगेटिव रिपोर्ट साथ लाना जरूरी नहीं रह गया है। राज्य सरकार की ओर से यात्रियों के लिए यह बंदिश हटा दी गई है। सरकार की ओर से भले ही यात्रियों को छूट दे दी गई हो, लेकिन चारधाम यात्रा शुरू करने से पहलेे तीर्थ यात्रियों को देवस्थानम बोर्ड की वेबसाइट पर पंजीकरण कराना होगा। इसके साथ ही ई-पास की व्यवस्था में भी कोई छूट नहीं दी जाएगी। देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड की ओर से जारी नई एसओपी में यह जानकारी दी गई है।

जिस तरह राज्य सरकार ने बाहरी राज्यों से आने वाले यात्रियों के लिए कोविड जांच की निगेटिव रिपोर्ट लाने की बाध्यता को खत्म कर दिया है। उसी तरह देवस्थानम बोर्ड ने भी तीर्थ यात्रियों के लिए इसकी अनिवार्यता को समाप्त कर दिया है। अब बिना किसी जांच के तीर्थ यात्री चारधाम की यात्रा कर सकेंगे। उत्तराखंड सरकार ने प्रदेश में पर्यटन व धार्मिक स्थलों पर बाहरी यात्रियों की आवाजाही बढ़ाने के लिए यह निर्णय लिया है। इस निर्णय से मार्च से बेरोजगारी की मार झेल रहे हजारों लोगों को राहत मिलेगी। इसके साथ ही राज्य सरकार को आर्थिक क्षेत्र में भी लाभ होगा।

online darshan chardham uttarakhand
देवस्थानम बोर्ड की ओर से जारी की गई एसओपी के अनुसार वेबसाइट पर पंजीकरण के दौरान दी गई आईडी और पते का प्रमाण यात्रा के समय साथ रखना अनिवार्य होगा। तीर्थ यात्री जब पंजीकरण करा लेंगे तो उन्हें ई-पास जारी किया जाएगा। बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम में सभी तीर्थ यात्रियों की थर्मल स्कैनिंग होगी। इस दौरान किसी भी यात्री में कोविड के लक्षण मिलेंगे तो उसे आगे यात्रा की अनुमति नहीं दी जाएगी। इस दौरान यात्रियों को सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन करना होगा। इसके साथ ही फेस मास्क लगाना, सेनिटाइजेशन आदि का भी ध्यान रखना होगा।

चारधाम में दर्शन करने वाले यात्रियों की संख्या सीमित ही रहेगी। बदरीनाथ में रोजाना केवल 1200, केदारनाथ में 800, गंगोत्री में 600 और यमुनोत्री में 450 तीर्थ यात्री ही दर्शन कर सकेंगे। चारधाम यात्रा करने वालों की संख्या 50 हजार के पास पहुंच चुकी है। काबिलेगौर है कि 1 जुलाई से राज्य के लोगों के लिए चारधाम यात्रा शुरू कर दी गई थी। 25 जुलाई से तीर्थ यात्रियों को कोविड निगेटिव रिपोर्ट साथ लेकर आना जरूरी था। लेकिन अब सभी नियमों में छूट दे दी गई है।

Uttarakhand में इन जगहों के बारे में भी पढ़ें

Web Title covid negative report not necessary for chardham yatra in uttarakhand

(Religious News from The Himalayan Diary)

You may also like

error: Content is protected !!