14 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित है एशिया का सबसे ऊंचा पुल

by Content Editor

chicham bridge asia highest level bridge in spiti valley- भारत में घूमने के लिए कई खूबसूरत जगहें हैं, जहां के नजारे आपको और कहीं जाने नहीं देंगे। अगर बात की जाए पयर्टकों की तो वह हमेशा ऐसी जगह की तलाश में रहते हैं, जहां कुछ नया देखने को मिले। लाहौल स्पीति का चिचम गांव एक ऐसी ही खूबसूरत जगह है, जहां हर साल सैंकड़ों पयर्टक घूमने के लिए आते हैं।

लाहौल स्पीति के चिचम गांव को एक पुल जोड़ता है। इस पुल को चिचम ब्रिज नाम दिया गया है। यह पुल 14 हजार फुट की ऊंचाई पर सांबा-लांबा नाले पर बना है।

यह भी पढ़ेः लाहौल – स्पीति को जोड़ता है Kunzum Pass, गर्मियों में तापमान 20 डिग्री से भी कम

chicham bridge asia highest level bridge in spiti valley

chicham bridge asia highest level bridge in spiti valley

चिचम ब्रिज 120 मीटर लंबा और 150 मीटर ऊंचा है। इस पुल को बनाने में लगभग 16 साल का समय लगा, जिसमें तकरीबन 5 करोड़ 50 लाख रुपये का खर्चा आया है। इस पुल के बनने का सबसे बड़ा फायदा यहां के स्थानीय लोगों को हुआ।

इस पुल के बनने से गांव और काजा उपमंडल के बीच की दूरी 25 किलोमीटर कम हुई। साथ ही इसका फायदा यहां घूमने आने वाले पर्यटकों को भी हुआ है।

यह भी पढ़ें :  रोमांच के शौकीनों के लिए बर्फीले पहाड़ों से घिरा काजा स्वर्ग से कम नहीं

चिचम ब्रिज, पूरे एशिया में सबसे ऊंचाई पर बना रोड ब्रिज है। पहले यह गौरव चीन को मिला था। वहां सिंधू नंदी पर इससे पहले एशिया का सबसे ऊंचा पुल बना था।  क्योटो चिचम काजा बाई पास के बन जाने से मनाली आने वाले लोगों को अब रंगरिक पांग का रुख नहीं करना पड़ता है।

अब मनाली आने वाले लोग किबर और चिचम होते हुए क्योटो निकल जाते हैं। जिससे समय के साथ-साथ रुपये की भी बचत होती है।

chicham bridge asia highest level bridge in spiti valley

यह पुल 14,500 फीट ऊंचे कुंजम दर्रे पर बना है, जिस वजह से इस पुल पर जाना किसी खतरे से खाली नहीं होता है। पर फिर भी पर्यटक, खासतोर पर बाइकर्स यहां आना पसंद करते हैं।

अगर आप इस बार गर्मियों में लाहौल-स्पीति घूमने का प्लान बना रहे हो तो आपको इस पूल में से होकर जाना पड़ेगा। यहां आने पर आपको प्रकृति की खूबसूरती के साथ-साथ रोमांच का अनुभव भी प्राप्त होगा।

यह भी पढ़ें : बर्फ से ढकी चोटियों के बीच अद्भुत एहसास देती है भृगु झील

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!