Chardham Yatra : 30 जून के बाद ही शुरू होगी चारधाम यात्रा की यात्रा, श्रद्धालुओं की संख्या होगी सीमित

by Content Editor

चारधाम यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालुओं को थोड़ा और इंतजार करना होगा। जहां एक तरफ देश के कई हिस्सों में 8 जून से धार्मिक स्थलों को सरकार के नियमानुसार खोलने की अनुमति दे दी गई है, वहीं उत्तराखंड (uttarakhand) में चारधाम यात्रा (chardham yatra) को 30 जून तक स्थगित कर दिया गया। अनुमान लगाया जा रहा है कि अब यात्रा 1 जुलाई (start soon) से शुरू होगी। यात्रा शुरू होने से पहली ही उत्तराखंड देवस्थानम बोर्ड द्धारा  यात्रा से जुड़ी सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए चारधाम बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री व यमुनोत्री के हक-हकूकधारी फिलहाल चारधाम यात्रा के पक्ष में नहीं हैं। उन्हें आशंका है कि अगर चार धाम यात्रा शुरू हुई तो क्षेत्र में कोरोना वायरस संक्रमण और फैल सकता है। इन सबके बीच राज्य सरकार ने भी इसका जिम्मा चार धाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड को सौंपा है। बोर्ड के सीईओ ने संबंधित सरकारी अधिकारियों और तीर्थ पुरोहितों और धारियों के साथ बैठक की। जिसके बाद फैसला लिया गया है कि 30 जून से पहले यह यात्रा शुरू नहीं होगी।

uttarakhand chardham yatra start soon

Source – chardham tours

श्रद्धालुओं की संख्या होगी सीमित

दर्शन को श्रद्धालुओं की भीड़ न लगे, इसीलिए उनकी संख्या पहले ही तय कर ली गई है। यदि कोरोना काल में यात्रा शुरू होती है, तो प्रति दिन बदरीनाथ धाम में 1800, केदारनाथ धाम में 900, गंगोत्री में 600 और यमुनोत्री में 450 श्रद्धालु ही दर्शन कर पाएंगे। उत्तराखंड देवस्थानम बोर्ड ने फिलहाल बदरीनाथ धाम में एक दिन में अधिकतम 1800 श्रद्धालुओं के ठहरने की व्यवस्था की है।

चारों धामों में सामाजिक दूरी का पालन कराने को दो-दो मीटर की दूरी पर गोले बना दिए गए हैं, ताकि यदि यात्रा शुरू हो तो श्रद्धालुओं के बीच एक तय दूरी बनी रहे। हाल ही में आए नए आदेश के अनुसार माना जा रहा है कि 1 जुलाई से उत्तराखंड के चारधाम धाम की यात्रा शुरू होगी। अब श्रद्धालुओं को नई तारीख आने तक का इंतजार करना होगा, जिसका फैसला तीर्थ पुरोहितों और धारियों की सहमति के बाद ही लिया जाएगा।

Uttarakhand के इन लोकप्रिय मंदिरों के बारे में भी पढ़िए

Web Title chardham yatra will start only after june 30 in uttarakhand

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!