अस्थाई तौर पर 26 जनवरी तक बंद रहेगी भुंतर से चंडीगढ़ के बीच हवाई सेवा, जानिए यह है वजह

by Content Editor

उत्तर भारत में बढ़ती शीतलहर और बर्फबारी का असर आम जनजीवन पर दिखने लगा है, जिसके चलते यातायात पूरी तरह से प्रभावित हुआ है। इसका सीधा असर पर्यटकों पर भी देखने को मिल रहा है। ऐसे में अस्थाई तौर पर 26 जनवरी तक भुंतर-चंडीगढ़ (bhuntar chandigarh) हवाई उड़ानों (air service) को बंद (stopped) कर दिया गया है। विमानन विभाग ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए इस रूट को बंद करने के आदेश दिए हैं। खराब मौसम के चलते धुंध का असर तेजी से बढ़ रहा है। बढ़ती धुंध के चलते विमान को रनवे में उतरने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

आपको बता दें कि नए साल में जनवरी महीने में लगातार मौसम खराब रहने से कुछ दिन उड़ानों पर असर जरूर पड़ा, लेकिन 14 जनवरी से उड़ानें शुरू हो गई थीं। कभी मौसम खराब होने से उड़ानों में कुछ देरी हो रही थी, जिससे सवारियों को कड़ाके की ठंड में परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। भुंतर स्थित कुल्लू-मनाली हवाई अड्डे के विमानपत्तन निदेशक के अनुसार भुंतर-चंडीगढ़ उड़ान को सुरक्षा कारणों से अस्थायी रूप से 26 जनवरी तक बंद किया गया है। 27 जनवरी से उड़ानें फिर शुरू होंगी, जबकि भुंतर और दिल्ली के बीच सेवा सुचारू रूप से चल रही है।

bhuntar chandigarh air service stopped

एयर इंडिया के स्टेशन मैनेजर के अनुसार जनवरी के पहले सप्ताह में हुई भारी बर्फबारी-बारिश के चलते 12 और 13 जनवरी को उड़ानें नहीं हो पाई थीं। चंडीगढ़ में धुंध रहने से एयर इंडिया की भुंतर-चंडीगढ़ की उड़ान नहीं हो रही थी। होटल एसोसिएशन ने कहा कि कुल्लू-मनाली में हो रही बर्फबारी के बाद सैलानियों की संख्या में वृद्धि हो रही है। केंद्र और राज्य सरकार को चाहिए कि भुंतर हवाई अड्डे के लिए उड़ानों की संख्या बढ़ाई जाए, जिससे पर्यटकों को वादियों में आने-जाने में सुविधा हो सके।

इन लोकप्रिय खबरों को भी पढ़ें 

Web Title bhuntar chandigarh air service stopped

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!