कांगड़ा में बनखंडी के प्रसिद्ध बगलामुखी देवी धाम के दर्शन करने के लिए भक्तों को करना होगा इंतजार

by Ravinder Singh

हिमाचल प्रदेश (himachal pradesh) के कांगड़ा जिले (kangra) के बनखंडी (bankhandi) में बगलामुखी देवी (baglamukhi devi temple) के दर्शन करने के लिए श्रद्धालुओं को अभी और इंतजार करना पड़ेगा। बगलामुखी देवी मंदिर ट्रस्ट ने फिलहाल मंदिर को श्रद्धालुओं के लिए खोलने से इंकार कर दिया है। मंदिर ट्रस्ट से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि मंदिर को श्रद्धालुओं के लिए खोलने के लिए बाद में बैठक करके निर्णय लिया जाएगा। मंदिर ट्रस्ट के निर्णय से पिछले पांच महीने से भी अधिक समय से बगलामुखी देवी के दर्शन करने की चाहत रखने वाले श्रद्धालुओं को निराशा हाथ लगी है।

जल्द होगा तारीख का ऐलान

हिमाचल सरकार ने 10 सितंबर से प्रदेश के सभी धार्मिक स्थल नियम व शर्तों के साथ श्रद्धालुओं के लिए खोलने की अनुमति दे दी थी। जिसके बाद प्रदेश में ज्यादातर धार्मिक स्थलों को श्रद्धालुओं के लिए अलग अलग निर्देशों व शर्तोंं के साथ खोल दिया गया है। हालांकि बनखंडी में बगलामुखी देवी मंदिर में अभी भी श्रद्धालुओं के आने पर प्रतिबंध है। बगलामुखी मंदिर ट्रस्ट केअनुसार इस बारे में बैठक करके निर्णय लेंगे। मंदिर खोले जाने को लेकर जल्दबाजी बरतना ठीक नहीं है। जल्द ही मंदिर खोले जाने की तारीख की घोषणा करेंगे। फिलहाल मंदिर ट्रस्ट श्रद्धालुओं को बगलामुखी देवी के ऑनलाइन दर्शन करवा रहा है।

पांडवों ने किया था निर्माण

बनखंडी स्थित बगलामुखी देवी मंदिर पूरे विश्व में प्रसिद्ध है। यहां हर साल बड़ी संख्या में श्रद्धालु बगलामुखी देवी के दर्शन करने के लिए आते हैं। मान्यता है कि बगलामुखी देवी का यह मंदिर महाभारत कालीन समय से है। यहां आने वाले भक्तों का मानना है कि अज्ञातवास के दौरान पांडवों ने एक रात में इस मंदिर का निर्माण किया था। मंदिर निर्माण के बाद सर्वप्रथम अर्जुन एवं भीम ने युद्ध में विजय प्राप्त करने की कामना के साथ माता बगलामुखी की विशेष पूजा की थी। कालांतर से ही माता बगलामुखी में लोगों की आस्था रही है।

Himachal Kangra के इन प्रसिद्ध मंदिरोंं के बारे में भी पढ़ें

Web Title baglamukhi devi temple bankhandi will not open soon in kangra himachal

(Religious News from The Himalayan Diary)

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!