दर्शन नहीं तो क्या, बदरीनाथ में भगवान को ऑनलाइन अर्पित की जा रही है बदरी तुलसी माला

by admin

कोरोना संक्रमण की वजह से उत्तराखंड (uttarakhand) में बदरीनाथ (badrinath) धाम की तीर्थयात्रा पर भले ही रोक लग गई हो, लेकिन श्रद्धालु भगवान को खुश करने के लिए लगातार ऑनलाइन (online) बदरी तुलसी (badri tulsi) की माला खरीद कर चढ़ा रहे हैं। यह माला भगवान को चढ़ाने पर एक तरफ श्रद्धालुओं को सुखद अनुभूति करा रही है, तो दूसरी तरफ ग्रामीणों को रोजगार मुहैया हो रहा है।

बदरी तुलसी की माला बदरीनाथ धाम से ही सटे बामणी के ग्रामीण बना रहे हैं। इस गांव में रहने वाले लगभग 70 से 80 परिवार इन दिनों बदरी तुलसी की माला को बनाने में अहम भूमिका निभा रहे हैं। रोजाना यह लोग कृषि कार्य के साथ ही तुलसी को तोड़कर उसकी माला को बनाने में जुट जाते हैं। इसके बाद ग्रामीण भक्तों से ऑनलाइन संपर्क साध कर उनके नाम से बदरीनाथ धाम में प्रसाद व तुलसी माला भेंट करने के लिए इजाजत लेते हैं, जैसे ही इसकी अनुमति मिल जाती है, संबंधित व्यक्ति को इसके ऑनलाइन भुगतान के बारे में बता दिया जाता है। इस माला को ऑनलाइन ही भक्तों को दिखाकर भगवान को अर्पित कर दिया जाता है।

badri tulsi mala sold at badrinath

source – pinterest

तुलसी की यह माला 101 से 501 रुपये में बनाकर बेची जा रही है। रोजाना श्रद्धालुओं की ओर से लगभग 50 मालाएं ऑनलाइन ली जा रही हैं। बामणी गांव के माउंटेन ट्रैक्स समिति के अनुसार तुलसी की माला से भक्तों की इच्छा पूरी होने के साथ ही ग्रामीणों को रोजगार भी मिल रहा है। श्रद्धालुओं का कहना है कि वह बदरीनाथ जाना चाहते थे, लेकिन कोरोना के चलते दर्शन के लिए नहीं जा सके और न ही प्रसाद चढ़ा सके। ऐसे में बामणी गांव के युवाओं ने बदरीनाथ जी के दर्शन करने और प्रसाद भेंट करने की इच्छा पूरी कर दी।

बदरीधाम में तुलसी की अधिक पैदावार होने की वजह से इसे बदरी तुलसी के नाम से भी जाना जाता है। इसके इस्तेमाल से कई रोग जैसे चर्मरोग, डायबिटीज, घाव, बाल झड़ना, सिर दर्द, बुखार, कफ व संक्रमित रोग ठीक हो जाते हैं। यह काफी शुद्ध मानी जाती है, ऐसे में भगवान को प्रसन्न करने के लिए तुलसी बदरी की माता अर्पित करने के लिए इस विकल्प को सहर्ष स्वीकार किया जा रहा है। बताते चलें कि बामणी गांव के ग्रामीण बदरीनाथ धाम में फोटोग्राफी के साथ ही धाम में होटल आदि का भी संचालन करते हैं।

बदरीनाथ धाम के बारे में यह भी जानें

Web Title badri tulsi mala being sold online at badrinath dham in uttarakhand

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!