हमीरपुर के सबसे ऊंचे स्थान पर है अवाह देवी मंदिर, चमत्कारी पिंडी के रूप में स्थापित हैं माता

by Ravinder Singh

प्रकृति की सुरम्य वादियों के बीच आध्यात्मिक शांति प्राप्त करने के लिए हिमाचल प्रदेश (himachal) में बेहतरीन तीर्थाटन स्थल हैं। यहां प्रकृति की अद्भुत खूबसूरती के बीच कई ऐतिहासिक धार्मिक स्थल मौजूद हैं। यही कारण है कि हर साल भारी संख्या में श्रद्धालु हिमाचल प्रदेश के इन धार्मिक स्थलों का दौरा करने के लिए पहुंचते हैं। हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर (hamirpur) और मंडी (mandi) जिले की सीमा क्षेत्र पर ऐसा ही एक चमत्कारिक धार्मिक स्थल अवाह देवी मंदिर (awah devi temple) है। यहां माता पिंडी के रूप में स्थापित हैं। अवाह देवी मंदिर हमीरपुर शहर से लगभग 24 किलोमीटर दूर एक पहाड़ी पर स्थित है। यह स्थान हमीरपुर जिले का सबसे ऊंचा स्थान भी है।

अवाह देवी मंदिर का इतिहास

इस मंदिर को लेकर मान्यता है कि एक बार हमीरपुर जिले के संगरोह में एक किसान खेती कर रहा था। इस दौरान उसका हल एक पत्थर से टकरा गया, जिसमें से रक्त निकलने लगा। जल्द ही यह खबर पूरे क्षेत्र में आग की तरह फ़ैल गई। इसके बाद लोगों ने पिंडी को बाहर निकाला और माता ने सभी को दर्शन दिए। हालांकि पिंडी को बाहर निकालने के बाद मंडी और हमीरपुर के लोगों में पिंडी की स्थापना को लेकर विवाद हो गया। दोनों ही पक्ष अपने-अपने क्षेत्र में माता की स्थापना करना चाहते थे। इस बीच मंडी के लोग पिंडी उठाकर चल पड़े। कुछ दूर चलने के बाद मंडी के लोग एक स्थान पर माता की पिंडी को रखकर आराम करने लगे। जब मंडी के लोग पिंडी को वापस उठाने लगे तो काफी जोर लगाने के बाद भी पिंडी नहीं उठी। इसके बाद सभी लोगों ने सहमती से पिंडी को यहीं स्थापित कर दिया गया।

awah devi temple hamirpur

Source – TripAdvisor

धार्मिक आस्था

अवाह देवी मंदिर हमीरपुर जिले के सबसे ऊंचे स्थान पर समुद्र स्तर से 1237 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। ऊंचे स्थान पर होने के कारण अवाह देवी मंदिर के आसपास का नजारा भी काफी खूबसूरत है। अवाह देवी मंदिर में स्थापित पिंडी को जालपा पिंडी और मंदिर को जालपा देवी मंदिर भी कहा जाता है। अवाह देवी मंदिर पर क्षेत्र के लोगों के गहरी आस्था है। बड़ी संख्या में हिंदू भक्त मंदिर में देवी का आशीर्वाद लेने और उनकी कृपा पाने के लिए पहुंचते हैं। खासकर नवरात्र के मौके पर माता के दरबार में बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचते हैं। नवरात्रों पर यहां जागरण और भंडारों का भी आयोजन होता है। यहां लोग अपनी मनोकामनाएं पूरी होने पर जातर ले कर माता का शुक्रिया करने आते हैं। इसके अलावा हर पांचवें श्राध पर यहां भंडारे का आयोजन किया जाता है।

कैसे पहुंचें अवाह देवी मंदिर

अवाह देवी मंदिर हमीरपुर शहर से लगभग 24 किलोमीटर दूर एक पहाड़ी पर है। हमीरपुर शहर से अवाह देवी मंदिर पहुंचने के लिए परिवहन की सुविधा उपलब्ध है। हमीरपुर शहर बस सेवा से दिल्ली, अमृतसर, देहरादून, हरिद्वार, अम्बाला, चंडीगढ़ सहित अन्य प्रमुख शहरों से जुड़ा हुआ है। हमीरपुर से नजदीकी रेलवे स्टेशन लगभग 70 किलोमीटर दूर ऊना में है। हमीरपुर से निकटतम हवाई अड्डा लगभग 83 किलोमीटर दूर कांगड़ा का गग्गल हवाई अड्डा है।

Himachal Hamirpur के इन धार्मिक स्थलों के बारे में भी पढ़ें

Web Title awah devi temple is situated at the highest point of hamirpur district in himachal pradesh

(Religious Places from The Himalayan Diary)

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!