भारी बारिश से घुमक्कड़ों के लिए उत्तराखंड में बढ़ा रोमांच, सड़कों पर निकलते वक्त बरतें सावधानी

by Ravinder Singh

घूमने-फिरने के इस सीजन में पहाड़ी इलाकों में जहां बारिश और बाढ़ परेशानी बन कर खड़े हो रहे हैं, वहीं रोमांच की तलाश में निकले घुमक्कड़ों के लिए इससे बेहतर मौका और कुछ नहीं हो सकता। बाढ़ से जूझना, कीचड़ से बचते-बचाते चढ़ाई चढ़ना और थोड़ी देर में सूखा, थोड़ी देर में झमाझम बारिश जैसी मौसमी घटनाओं का लुत्फ उठाना है तो इस समय सावधानी बरतते हुए उत्तराखंड का रुख किया जा सकता है।

ये मौसम कैलाश मानसरोवर, वैष्णो देवी, अमरनाथ गुफा जैसी पवित्र यात्राओं पर निकले लोगों के साथ-साथ पहाड़ी क्षेत्रों के स्थानीय निवासियों के लिए मुश्किलें भी पैदा कर रहा है। पिथौरागढ़ जिले में सोमवार की सुबह भारी बारिश के बाद बादल फट गया। इससे मुनसियारी और आसपास के इलाकों में पानी ही पानी का मंजर दिखने लगा। बादल फटने से जानमाल का तो नहीं लेकिन सेराघाट हाइड्रोपॉवर प्लांट को नुकसान पहुंचा है। दानी बगड़ में हिमालया हाइड्रो का डैम टूट गया।
मौसम विभाग ने पहाड़ी राज्य के आठ जिलों में अलर्ट जारी किया है। खास बात यह कि ये जिले पर्यटन के लिहाज से बेहद महत्वपूर्ण हैं और इस समय यहां घूमने आने वालों खास कर विभिन्न मंदिरों के दर्षन के लिए श्रद्धालुओं की खासी भीड़ लगी है। टिहरी जिले के कई हिस्सों में हुई मूसलाधार बारिश ने परेशानी खड़ी कर दी है। इसी तरह तेज वर्षा ने केदारनाथ यात्रियों का भी रास्ता रोक दिया है। दर्शन को आने वाले श्रद्धालुओं में खासी कमी आई है। लगातार बारिश के चलते ऋषिकेष-गंगोत्री हाइवे को कुंजापुरी मंदिर के पास बंद कर दिया गया है। यहां सड़क बंद होने से गाड़ियों की लंबी कतार लग गई है। चंपावत में शारदा नदी का जल स्तर बढ़ने से बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं।

हालांकि ये सब हालात घूमने के शौकीन लोगों के दिलों में रोमांच भर देती हैं। पर्यटक यात्रा प्लान करते वक्त इस बात का खास ख्याल रखें कि बारिश के कारण इस समय यमुनोत्री हाइवे डाबरकोट के बाद भूस्खलन से बाधित हो गया है। बद्रीनाथ हाइवे भी लामबगड़ के पास ठप है। सुरंगघाटी और जिमिगाड में भी बारिश से दो पुल बह गए। यही नहीं मिलम रूट में धापा के पास पहाड़ी दरकने से सड़कें बंद हो गईं जिससे पर्यटकों को दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है।
राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार अगले 24 घंटे में देहरादून एवं आसपास के क्षेत्रों में भारी बारिश हो सकती है। देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी, टिहरी के अलावा कुमाऊं मंडल के पिथौरागढ़, नैनीताल, चंपावत एवं ऊधमसिंह नगर में भारी बारिश होने के आसार हैं। स्थानीय लोगों के साथ-साथ यहां तीर्थाटन या पर्यटन के लिए आने वालों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है।

You may also like

Leave a Comment

error: Content is protected !!